Afroj.in - Inspirational and Motivational Hindi Stories, Hindi Quotes

Do you want to be notified about New Posts? Join our E-mail Newsletter. It's fast and easy. Learn first How to Subscribe... Find out more...


Following are the some of the Advantages of Opt-in Form :-

  • Easy to Subscribe Setup and use.
  • We respect your privacy; We will never give your data to third parties.
  • You can cancel your subscription at any time.

Saturday, 7 April 2018

// // Leave a Comment

How to Success in Exam: Exam Tips and Hint

मत लीजिए Exams का Stress बेहतर होगा Score और Result


देश भर में Exams का दौर है। कड़ी तैयारी के बीच अलग-अलग Exams में Students Stress का सामना भी कर रहे हैं। Fortis Healthcare के Survey के मुताबिक 70 Percent Students Exams में और उससे पहले के कुछ सप्ताहों में पूरी नींद नहीं लेते। इनमें से 18 Percent  मात्र तीन से पांच घंटों की नींद लेते हैं। हालांकि ऐसा करना उनकी Performance पर खराब असर डालता है। Experts के मुताबिक Exams में अच्छा Performance करने की चिंता और परिजनों की उम्मीदों पर खरा उतरने के Stress के कारण Students Exam Stress का शिकार होते हैं। Indian Medical Association के पूर्व President Dr. K.K. Agarwal की राय में हालांकि Examinations Future की Success को निर्धारित (Determined) करने में Important Role निभाती हैं। लेकिन इसके लिए जरूरत से ज्यादा Stress लेना काम को बिगाड़ सकता है। याद रखें Exams में Nervous होना सहज है, लेकिन जरूरी है कि इस दौरान इस संबंध में अपने Family और Friends से बात करें। छोटे Break लें। यहां तक कि Examinations खत्म होने के बाद Result तक उसी चिंता में न डूबे रहें। असल में अगर मजबूत तैयारी के साथ-साथ आप Stress Management भी करें तो Result कई गुना बेहतर होगा।
exam-success-hint-tips

Stress से बचने के लिए ऐसे बनाएं अपना Study Schedule

1. प्लान बनाएं (Make Plan)

Examinations Start हो गई हैं तो भी अपने साथ ज्यादा सख्ती न बरतें। इस वक्त के लिए आपके पास एक Short Plan होना चाहिए जो आपको Important Topics को दोहराने (Revision करने) में काम आएगा। यहां एक Fixed Timeline में ही आपको सफलता मिलेगी। जिन Topics को Cover नहीं कर पाए हैं उनके लिए परेशान (Upset) न हों, बल्कि उन्हें Strongबनाएं जिनके लिए आपने Good Preparation की है।

2. पढ़ाई के सोर्स में बदलाव (Changes in Learning Source)

कई बार लगातार एक ही साधन (Resources)  से पढ़ने पर बाेरियत होने लगती है। पढ़ाई के तरीकों में बदलाव के साथ-साथ स्त्रोत में भी बदलाव किया जा सकता है। Books और Note Books के अलावा आप Subject से Related Youtube Channel भी देख सकते हैं। इसके अलावा कई Websites Audio Lecture की सुविधा भी देती हैं। जिससे आपको सुनकर समझने में आसानी होती है।

3. स्टिकी नोट्स की मदद (Get Help From Sticky Notes)

कई Research में साबित हुआ है कि Students को खुद के लिखे Notes ज्यादा याद रहते हैं। इतना ही नहीं Colour Sticky Notes लिखे Formula भी देर तक याद रहते हैं। ऐसे में Sticky Notes पर Important Points और Formula लिखकर Study Table और दीवार (Wall) पर चिपका दें। यह याद रखने का सबसे असरदार (Effective)  तरीका है, जो आपके काम आएगा।

प्रजेंटेशन से मजबूत करें अपनी प्रैक्टिस (Strengthen Your Practice With Presentation)

जब भी किसी Topic की तैयारी करें तो उसकी Practice ऐसे Presentation के रूप में करें जैसे आप Exam Copy में लिखेंगे। आपके Questions के Answer में भी आपका Self-Confidence नजर आना चाहिए। जितना हो सके अपने Answers को Facts और Figures के साथ देने की कोशिश करें। इसके अलावा हर Point के साथ तर्क (Logic) भी दें। इस तरीके से आपको Best Score करने में मदद मिलेगी।

ये हैं तनाव की मुख्य वजहें (The Main Reasons For Stress)


  • कुछ ही दिनों में सालभर का पूरा Syllabus Revise करने की मशक्कत |
  • Exam में Best Performance की अनिश्चितता (Uncertainty) |
  • Family की उम्मीदों का दबाव और Friends से तुलना होने का डर |
  • Future में अच्छे College या Course में प्रवेश का मापदंड Good Marks होना।

तैयारी के तरीके में करें थोड़ा बदलाव (Make a Change In The Way Of Preparation)


  • एक बार में 45 Minute से ज्यादा न पढ़ें। 
  • हर Session के बीच पांच से दस मिनट का Brake जरूर लें। 
  • एक साथ बहुत सारे Topics को दिमाग में जमा न करें। सारे Hard Topics एक साथ न पढ़ें और न ही सभी Easy Topics एक साथ Cover करें। 
  • Keywords को Highlights करें, इससे आपके दिमाग में Picture बन जाएगी और Exam में Keyword याद अाने से पूरा Answer याद आ जाएगा। Flow Charts और Graphics की मदद लें। 

ये लक्षण न करें नजरअंदाज (Do Not Ignore These Symptoms)

शारीरिक लक्षण : Physical Symptoms

Heart Rate का बढ़ा हुआ होना, मांसपेशियों में हल्का Stress, अधिक पसीना आना, Nervousness, सिर भारी होना, मुंह का सूखना, Fatigue, भूख में कमी।

व्यवहार संबंधी लक्षण : (Behavioural Symptoms)

कामों को टालने की प्रवृत्ति (Tendency), लोगों से दूर रहना, छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा आना, खुद का Care न करना, स्वयं को नुकसान पहुंचाना, रोने का मन होना, चिड़चिड़ापन (Irritability)। 

60% Students ने Health Survey में माना कि Examinations में वे सप्ताह (Week) का एक घंटा भी बाहर नहीं बिताते। 

86% ने माना कि Physical Activity के लिए 30 Minute का समय भी उनके पास नहीं होता। 


73% का मानना है कि Family के साथ बिताने के लिए उनके पास एक घंटा भी नहीं होता। 

मैं आशा करता हूँ कि आपको यह Post अच्छा लगा होगा | अगर आपको अच्छा लगे तो इसे अपने Facebook, Whatsaap, Google+, Twitter के माध्यम से अपने दोस्तों और अपने परिवार वालों के साथ जरुर  Shear करें |

Read More

Tuesday, 3 April 2018

// // 1 comment

Four Skills Needed for Success in Technology Jobs

Technology Job में Success के लिए जरूरी Four Skills


पिछले कुछ सालों में Technology Sector में बढ़ती Jobs की संख्या इस क्षेत्र की मजबूती की ओर इशारा कर रही है। ऐसे में यहां Careers शुरू करने वाले युवा पढ़ाई के साथ-साथ उन Skills के बारे में जानना चाहते हैं जो यहां उन्हें Success दिला सकती हैं। इन Skills में अक्सर Computer, Coding, Networking का जिक्र आता है। लेकिन Technology Job में Success होने के लिए अब इतना काफी नहीं है। यहां Hiring के दौरान Soft Skills भी Technical Skills जितनी महत्वपूर्ण होती हैं और कामयाबी में भी ये अहम भूमिका निभाती हैं। हाल में Technology Staffing Placement Company Harris Allied ने अपनी ताजा Research में उन चार महत्वपूर्ण Soft Skills  के बारे में बताया है जिनकी अब नौकरियों (Jobs) के बाजार में मांग बढ़ी है। 

First: Leadership Skills

Leadership Skills की खासतौर पर इस क्षेत्र की Jobs में मांग है। अगर आप में Leadership Quality है तो आपके यहां आगे बढ़ने की अच्छी संभावनाएं हैं। इन Skills में टीम को प्रोत्साहित करने, उन्हें Responsibilities सौंपने और विवादों (Controversies) को अासानी से Handle करने के गुण आप में होने चाहिए। 

four-skills-needed-success-technology-jobs

Second: Communication Skills

IT Department अब हर Company की ताकत (Strength) है जहां Technology के लिए Company की निर्भरता IT Team पर होती है। ऐसे में हर दिन अलग-अलग Department के कई लोगों से आपको बात करनी होती है। चूंकि वे Technology Background से नहीं होते ऐसे में उन्हें संबंधित चीजें समझा पाना मुश्किल होता है। यहां Communication Skills की अहमियत है ताकि आप जटिल बातें भी आसानी से समझा पाएं। 

Third: Problem Solving Skills

Technology Expert के रूप में आप में Problem Solving Skills का होना जरूरी है। हालांकि Companies हर थोड़े समय में New Technology Updates नहीं कर सकतीं लेकिन वे आपसे उम्मीद करती हैं कि आप उनकी मौजूदा Technical Problems का Solution निकालें ताकि कोई काम न रुके।

Four: Management Skills

Technology की पढ़ाई के दौरान कम ही College Management पढ़ाते हैं। जबकि इस क्षेत्र में जॉब की शुरुआत करते ही Management के महत्व का पता लगता है। असल में Companies अब ऐसे Professionals को पसंद कर रही हैं जो Technology Role के साथ Administrator और Managerial Role भी संभाल लें। साथ ही ज्यादातर Companies April के समय इन खूबियों को भी ध्यान में रखती हैं।



मैं आशा करता हूँ कि आपको यह Post अच्छा लगा होगा | अगर आपको अच्छा लगे तो इसे अपने  Facebook, Whatsaap, Google+, Twitter के माध्यम से अपने दोस्तों और अपने परिवार वालों के साथ जरुर  Shear करें |
Read More

Saturday, 31 March 2018

// // Leave a Comment

Become SEO Expert to Promote Business

बनिए SEO Expert मिलेगी Business को तरक्की (Promotion)


अब जब बिना Internet के Business की कल्पना करना भी मुश्किल है तो ऐसे में उन Techniques को जानना मददगार होगा, जो Online Business की तरक्की में काम आती हैं। ऐसी ही एक तकनीक है SEO यानी Search Engine Optimization। यह आपके Content को Internet पर ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने में मदद करती है। जब भी आप Google पर कुछ Search करते हैं तो शुरुआती पेजों पर Popular Webpage खुलकर आपके सामने आते हैं क्योंकि वे Search Engine Optimization तकनीक की मदद लेते हैं। ऐसे में अगर आप SEO का इस्तेमाल करेंगे तो आपके Business की Website भी Google के Top Result में शामिल हो सकती है। 

ऐसे मिलेंगे Results

जब भी हम कोई Topic Google पर Search करते हैं तो हमें वहां दो तरह के रिजल्ट मिलते हैं। एक जाे गूगल को भुगतान करने पर Google Search के पहले पेज पर आते हैं। इसे Inorganic Result कहते हैं। दूसरे वे सर्च रिजल्ट जो गूगल को बिना पैसे दिए शुरुआती पेज पर आ जाते हैं। इन्हें Organic Result कहते हैं। SEO की मदद से Organic तरीके से Google Search Result में शामिल हुआ जा सकता है। इसमें आपका खर्च भी बचेगा।

become-seo-expert-promote-business

SEO के फायदे 

Google पर हर Second 40 Thousand Search एक साथ होती हैं। 3.5 Billions Search प्रतिदिन Google पर होती हैं ऐसे में SEO Business को प्रमोट करने का अच्छा मौका देता है। 
SEO Technique का इस्तेमाल करना नि:शुल्क है। इस तकनीक पर अच्छी पकड़ से आपकी Website पर Advertisement (Ads)  आने लगेंगे जिससे आपकी कमाई होगी। 
इससे आपके बिजनेस का 24 घंटे लगातार प्रचार होता रहता है। एक बार Google पर अच्छी Rankings पर आ जाने से आप कई महीनों तक उस स्तर पर बने रह सकते हैं। 

Content यहां अहम है 

आपके Webpage को Popularबनाने के लिए आपका Content  ही अहम भूमिका निभाएगा। अच्छा Content  आपके Webpage  पर Traffic जुटाने में मदद करता है। साथ ही Best Content  को ही Google अपनी शुरुआती Search में Users के सामने रखता है। इसके लिए Study की जानी चाहिए कि एेसे कौनसे Words हैं जो Users सबसे ज्यादा Search करते हैं। Content लिखते समय आपको ध्यान रखना हाेगा कि कम से कम शब्दों में आप सारे महत्वपूर्ण बिंदुओं को समेट लें।

Page Title and Description 

SEO के लिए Page का Title बेहद अहम होता है। SEO की List में यह आपकी प्राथमिकता होनी चाहिए। आपका Page Title ऐसा हो जो आपके Webpage और Content  को अच्छे से समझाता हो। Title छोटा और प्रभावी होना चाहिए। Page का Title आपके Business और सेवाओं से संबंधित भी हो सकता है। Webpage का Description भी ऐसे ही बनाना होगा जो आपको Google Search में आगे रखे।

Video से Top Ranking

Video Content के इस्तेमाल से Google Ranking तेजी से बढ़ती है। Marketing Land Status Report के अनुसार, Google करीब 62 Percent Search Video के आधार पर करता है। यानी जब भी आप कोई Topic Search करते हैं तो उससे संबंधित Popular Videos आपको लिखित Content  से पहले दिखाए जाएंगे।

Long Tail Keywords

Social Media Profile पर Keywords का इस्तेमाल आम बात है, लेकिन अगर आप अपने Webpage पर तेजी से Traffic बढ़ाना चाहते हैं तो आपको एक Step आगे बढ़ना होगा। इसके लिए आपको Long Tail Keywords का उपयोग करना होगा। जब कई छोटे Words को जोड़कर एक Sentence बनाया जाता है तो उसे Long Tail Keywords कहा जाता है और ये General Keywords के मुकाबले 80 Percent ज्यादा Impressive होते हैं। इसके लिए बस सही शब्दाें की पहचान जरूरी है।

Online Performance अहम 

बड़े Search Engine आपकी Website पर हमेशा नजर बनाए रखते हैं। इसके लिए जरूरी है कि आपकी Website हर बार खोलने पर जल्दी से लोड हो। यहां आपकी Website का Web Server मुख्य भूमिका निभाता है। साथ ही Website पर Coding की गुणवत्ता भी अच्छी होनी चाहिए। आपको यह भी सुनिश्चित करना होगा कि आपकी Website Mobile पर भी आसानी से खुले। Users को अच्छा अनुभव नहीं देने पर आप Google Ranking में पिछड़ सकते हैं।

Read More

Wednesday, 28 March 2018

// // Leave a Comment

Lets Do And Get Success

वह काम करके दिखाइए जिसके लिए आपको Training नहीं मिली...

वह काम करके दिखाइए जिसके लिए आपको Training नहीं मिली | अगर एक ही Area में खुद को सीमित कर लेंगे तो Success मुश्किल होगी। अक्सर हम अपने History से सीखते हैं लेकिन अगर आने वाले Future की बात की जाए तो चीजें बहुत तेजी से बदल रही हैं। ऐसे में सिर्फ History पर टिके रहना काफी नहीं है। हमें Future की गति के साथ चलना होगा। यहां सबसे Important है कि हम सही Leaders का चुनाव करें जो हमें लगातार प्रेरित (Inspired) करते रहें और साथ ही हमें उन Topics पर अपनी समझ बढ़ानी होगी, जो Future  में Success के लिए Helpful साबित हो सकते हैं। हमें यह भी ख्याल रखना होगा कि आने वाले समय में हर कदम पर Competition हमारा इंतजार कर रही है। इसके लिए खुद को तैयार भी रखना होगा। तभी आप तरक्की (Advancement)  की ओर कदम बढ़ा पाएंगे।

सहयोग को बनाइए Success का आधार...

हर Company में सहयोग की संस्कृति को बढ़ावा दिया जाना चाहिए। प्रतिस्पर्धा कंपनी (Competing Company) के बाहर होनी चाहिए। यही आपकी Success का आधार होगा। सहयोग से दो और दो का जोड़ 4 नहीं बल्कि 22 हो जाता है। Future में कई सारी Streams में एक साथ काम होगा और ऐसे में अगर हम एक ही Area में खुद को सीमित कर देंगे तो किसी भी हाल में Success नहीं होंगे। वहीं वे लोग जो Interdisciplinary Background से होंगे उनके लिए Survive करना बहुत आसान होगा और वे ज्यादा Demand में भी रहेंगे। 

lets-do-get-success

Stress तो होगा ही, निपटने के तरीके खोजें...

अक्सर Stress और Tension आपके काम का हिस्सा होते हैं, लेकिन इनके साथ रहने की आदत मत डालिए। Professional व Personal Life में कई बार ऐसा समय आएगा जब Conditions बिल्कुल Opposite होंगी, लेकिन उस स्थिति से निपटने का एक ही तरीका है वह यह है कि आप गहरी सांस भरें और सोचें कि इससे भी बुरा आपके साथ और क्या हो सकता है। इस Imagination से आप उस स्थिति से जुड़े Positive Aspects (पहलुओं) को जान पाएंगे। इससे Positive Energy के साथ उन स्थितियों से निपटने की शक्ति भी मिलेगी। अपने Stress की वजहों को पहचानिए और उन्हें एक-एक करके खत्म कीजिए। जैसे ही पहली, दूसरी वजह खत्म होगी, बाकी Problems भी खुद-ब-खुद सुलझ जाएंगी। 

जितना सीखा है उससे ज्यादा करना होगा...

जो आप हैं आपको उससे हमेशा एक कदम आगे चलना है। आपको खुद के काम से कभी Satisfied नहीं होना चाहिए। आपको Continuous आगे बढ़ते रहना है। इसके लिए आपको अलग तरह से सोचना होगा, अलग तरह से काम करना होगा और Innovate करना होगा तभी आप सबसे अलग बन पाएंगे। आप जिस रोल के लिए Trained किए गए हैं वहीं तक आपको नहीं रुकना है। आपको उससे कहीं अधिक खुद को Proved करना होगा। आपको वह करके दिखाना होगा जिसके लिए आपको Trained नहीं किया गया है। तभी आप Success की ओर बढ़ेंगे। 



Read More

Tuesday, 27 March 2018

// // Leave a Comment

The Wrong Degree Program to Paths for Success...

अगर आपने गलत Degree Program चुन लिया है तो भी Success के लिए कई हैं रास्ते

अपनी M.B.B.S.. की पढ़ाई के बीच Modeling के अपने Passion को Pursue करने के लिए "Manushi Chhillar" ने एक साल का Brake लिया और Miss World 2017 का खिताब अपने नाम किया। इसी क्रम में IIT से Mechanical Engineering और IIM से M.B.A. करने के बाद "Chetan Bhagat" ने Careers के तौर पर Writing को चुना। "Anil Kumble" ने भी Mechanical Engineering की डिग्री लेने के बावजूद Cricket को अपना Career बनाया। ऐसे दर्जनों उदाहरण हैं जिन्होंने अपनी डिग्री से हटकर या College Drop करके पसंद का Field चुना। क्या आपको भी ऐसा महसूस होता है कि आपने जिस Degree Course में Admission लिया है वह गलत है या आपकी पसंद का नहीं है? अगर हां तो बीच राह में बदलाव करने का फैसला लेना आसान नहीं होगा, लेकिन Tension न लें। दरअसल ऐसी स्थिति का सामना ज्यादातर Students करते हैं। फिक्र छोड़कर सोचें कि आपने यह डिग्री क्यों चुनी, इस दौरान आपने कौन-सी Skills सीखीं और क्या आप इन्हें कहीं और इस्तेमाल कर सकते हैं। 

ऐसे तलाशें अपना Dream Job...

अगर आप अपने Subject को पसंद करते हैं, लेकिन उससे जुड़े Jobs को नहीं तो Subject से जुड़े दूसरे Jobs की तलाश करें। इसमें आप अपने Professor, Classmates, College Career Center और Online Research की मदद ले सकते हैं। वहीं अगर आप अपनी Degree से अलग Field चुनना चाहते हैं तो उससे संबंधित नए Course करें या ये देखें कि क्या आपकी Skills काम आ सकती हैं।


wrong-degree-program-success

खुद को दोषी महसूस न करें...

Student अक्सर किसी Career विशेष को Follow करते हुए या कभी-कभार बिना किसी Plan के College में Admission ले लेते हैं। बहुतों को बाद में महसूस होता है कि उनका Degree Program या Career Field  उनकी उम्मीदों पर खरा नहीं उतरा है। वजह कोई भी हो याद रखें कि उम्मीद अब भी बाकी है। ऐसा नहीं है कि अगर आपने गलत Subject या Career का चुनाव कर लिया है तो आप पछतावे में डूब जाएं। यहां आपने Degree के अलावा बहुत सी Practical Skills सीखी हैं और अपने Network को भी बढ़ाया है। तो ऐसा न समझें कि आपका पूरा अनुभव ही किसी काम का नहीं है।

सही चुनाव के लिए लें मदद ...

अपनी पसंद के Jobs से जुड़ी जानकारी हासिल करने के लिए अपने Friends, Relatives और Social Media से जुड़े अपने जानकारों या संबंधित फील्ड में काम करने वाले लोगों से बात करें। उनसे जानें कि यहां तक पहुंचने के लिए आपको क्या करना होगा। यह भी पूछें कि कौन-सी Skills और Training आपके लिए सही होंगी।

फैसले से पहले खुद से पूछें ये सवाल...

Self Analysis करें कि आपने यह Degree क्यों चुनी और अब उसमें Interest क्यों नहीं है। क्या यह Degree Program मेरी उम्मीद के मुताबिक था? क्या मैं अब भी इस विषय में Interest रखता हूं? क्या इस क्षेत्र में उपलब्ध Jobs मेरी उम्मीद से कम हैं? क्या मुझे किसी और फील्ड में ज्यादा मजा आता है? क्या मैंने संबंधित जरूरी Skills सीखीं हैं? इन सवालों का जवाब आपको दो स्थितियों का सामना करवा सकता है। एक जिसमें आपको महसूस हो कि आपकी रुचि विषय में तो बरकरार है लेकिन इस क्षेत्र में उपलब्ध Jobs में नहीं। दूसरी स्थिति यह हो सकती है कि आपने पूरी तरह से अपना मन बदल लिया है और Careers की राह बदलने की ठान ली है। दोनों ही स्थितियों में आप उन Skills को इस्तेमाल कर सकते हैं जो आपने सीखी हैं।

Skills को अपनी Strength बनाएं...

सबसे पहले यह सोचें कि आपने अपनी Degree Program में कौन-सी Skills सीखी हैं और क्या आप इन Skills का उपयोग किसी अन्य Career Field में कर पाएंगे। इसके लिए आप अपने Subject से हटकर उन सभी Skills के बारे में सोचें जो आपको पढ़ाई के दौरान सीखने को मिली हों। हो सकता है इस दौरान आपने Research Skills सीखी हों या अपनी Technical Writing को मजबूत बनाया हो। जो भी Skills रही हों उनकी एक लिस्ट बनाएं और सोचें कि इन्हें आप कहां इस्तेमाल कर सकते हैं। ये स्किल्स ही आपकी सबसे बड़ी Strength होंगी। अगर कोई Hobbies Careers में काम आ सकती हों तो उनका इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

Degree के बारे में ऐसे बात करें...

Job के लिए Resume और Interview में अपनी Degree के बारे में बात करते हुए थोड़ी Creativity के साथ उन Skills और Courses का उल्लेख करें जो जॉब के लिए उपयुक्त हैं। Interview में Employer को वही बताएं जिसकी जरूरत हो। अपने Experience को लेकर Positive रहें। अपनी डिग्री को छिपाने या फील्ड बदलने को लेकर पछतावा या शर्म महसूस न करें।

हार मानकर बिलकुल न बैठें...



अपनी गलत Choice का एहसास होने के बाद बदलाव का फैसला लेने में कई दिन या महीनों का समय बर्बाद न करें। बहुत ज्यादा सोचने या फिक्र करने पर आप किसी भी दिशा में आगे नहीं बढ़ पाएंगे। अपने बदलाव के फैसले पर लगातार Analysis करने की बजाय Field बदल लेने के विचार पर अमल करने की कोशिश करें।

Online Platforms भी करेंगे मदद...

idealist.org : इस Website के माध्यम से आप अपनी Skills के मुताबिक सही Career Options के बारे में जानने के अलावा किसी भी तरह की Career Advice ले सकते हैं। 
onetcenter.org : इस International portal की मदद से Free Test देकर आप अपनी Skills से मेल खाने वाले Professions की जानकारी हासिल कर सकते हैं और फिर उनमें से अपनी पसंद का कोई एक विकल्प चुनने का फैसला ले सकते हैं। 
mindler.com : यह Portal World के सबसे Advance Career Assessment, Career Counseling और Career Guidance Services के जरिए आपको Perfect Careers की खोज में मदद करता है।

Read More

Monday, 26 March 2018

// // Leave a Comment

Golden Words to Success in Exam

किसी भी Exam के Marks आपके Talent और Dreams को छीनकर नहीं ले जा सकते | अगर परीक्षाओं के तनाव से गुजर रहे हैं तो आपका हौसला बढ़ाएंगी देश, दुनिया के Teachers की लिखी ये खूबसूरत Words...

अक्सर किसी भी Student की काबिलियत (Ability) का पैमाना उसके Academic Score को माना जाता है, ऐसे में वे परीक्षाओं और परिवार की अपेक्षाओं के दोहरे दबाव का सामना करते हैं। Expertsकी Opinion में Exams में अच्छे Score की उम्मीद गलत नहीं है, लेकिन Student का तनाव  (Tension) में आना और मानसिक रूप से टूटना घातक है। Lancet Reports के मुताबिक भारत  (India) दुनिया के उन देशों में शामिल है जहां युवाओं की आत्महत्या  (Suicide) दर सबसे ज्यादा है। परीक्षाओं का तनाव भी यहां एक अहम कारक है। जबकि वास्तविकता में इसका मुकाबला इतना मुश्किल भी नहीं है, बस जरूरत है थोड़े प्रोत्साहन  (Encouragement) की। इस सिलसिले में समय-समय पर देश, दुनिया के टीचर्स ने ऐसी प्रेरणादायक चिटि्ठयां  (Inspirational Letters) लिखी हैं, जो Studentsकाे इस मुश्किल दौर को पार करने में मदद कर सकती हैं। अगर आप भी इस तनाव से गुजर रहे हैं तो इन Letters के ये संपादित अंश न केवल आपका हौसला  (Encourage) बढ़ाएंगे बल्कि आपको ऊर्जा से भी भर देंगे।

Doctor या Engineer बनना ही सब कुछ नहीं है...


Kolkata के एक School Principal ने Student व Parents को प्रेरित करने के लिए लिखा ...

Dear Parents,
बच्चों की Exams जल्द ही शुरू होने जा रही हैं। मुझे पता है कि आप वाकई में अपने बच्चे के अच्छे प्रदर्शन को लेकर फिक्रमंद (Regardful) होंगे, लेकिन याद रखें, जो बच्चे परीक्षाएं देने जा रहे हैं उनके बीच एक कलाकार (Artist) है, जिसे Mathematics समझने की जरूरत नहीं है। इसी तरह इनमें से एक आंत्रप्रेन्योर (Entrepreneur) है जिसे History या English Literature की परवाह नहीं है। यहां एक संगीतकार (Musician) भी है जिसके लिए Chemistry के Marks महत्व नहीं रखते। अगर आपका बच्चा Top Marks ले आता है तो अच्छी बात है, लेकिन अगर वह ऐसा नहीं कर पाता तो उसका आत्मविश्वास (Self-Confidence) उससे मत छीनिए। अपने बच्चों को बताइए कि यह सिर्फ एक Exam है। इसके अलावा भी Life में कई बड़ी चीजें हैं। उन्हें बताइए कि वे कितना भी स्कोर करें, लेकिन उनके प्रति आपका प्रेम कभी कम नहीं होगा और न ही इसके लिए आप उन्हें जज (Judge) करेंगे। अगर आप ऐसा करेंगे तो आपका बच्चा दुनिया को जीत लेगा। एक परीक्षा या 90% प्रतिशत आपके बच्चों के Dream और Talent छीनकर नहीं ले जा सकते। कृपया यह मत सोचिए कि केवल Doctor और Engineer ही दुनिया के खुश लोग हैं।


golden-words-success-exam

दिमाग से पहले दिल की पढ़ाई जरूरी है-

दो दशक पूर्व England की Teacher "Mary Ginney"ने अपने  Students के लिए लिखा था ...

Dear Students,
अगले हफ्ते आप Exams में बैठने जा रहे हैं जहां आपकी Mathematics और Grammar को परखा जाएगा। हम जानते हैं कि आपने कितनी मेहनत (Hard Work) की है, लेकिन इससे भी ज्यादा कुछ और महत्वपूर्ण है जिसके बारे में आपको पता होना चाहिए। मैं आपको बताना चाहती हूं कि ये परीक्षाएं उन सभी चीजों का मूल्यांकन नहीं करतीं जो आप में से हर एक को विशेषता (Speciality) बनाती हैं। जिन लोगों ने ये पेपर तैयार किए हैं वे आपको उस तरह नहीं जानते जिस तरह हम Teacher आपको जानते हैं और न ही वे उस तरह आपको पहचानते हैं जिस तरह आपका परिवार आपको जानता है। वे नहीं जानते कि आप में से कुछ लोग दो भाषाएं (Languages) बोलते हैं या आपको Songs या Drownings पसंद है। वे नहीं जानते कि आप दयालु और विचारशील हैं और हर दिन अपना बेस्ट देने की कोशिश करते हैं। जो Grade इस Exam को Pass करने के बाद आपको मिलेंगे वे आपको कुछ न कुछ बताएंगे, लेकिन वे आपको हर चीज नहीं बताएंगे। वे नहीं बताएंगे कि आप Smart हैं। इसलिए Exams की तैयारी के बीच यह याद रखें कि वे सभी अद्भुत (Wonderful) और बेहतरीन चीजें जो आपको "आप" बनाती हैं उन्हें परखने का रास्ता सिर्फ Exams नहीं हैं। 

दिल को शिक्षित किए बगैर दिमाग को शिक्षित करना कतई शिक्षा नहीं है - अरस्तु 

सबसे महत्वपूर्ण हैं आप खुद...

North West England के कुछ School Teachers की प्रेरणादायक  Words...

For Our Amazing Students,
पिछले कुछ हफ्ताें में आपने Exams की तैयारी के लिए काफी कोशिशें (Struggle) की होंगी। हम जानते हैं कि आप उन्हें पार भी कर लेंगेे, लेकिन इनके अलावा भी आपमें अन्य कई खूबियां (Characteristics) हैं। हर Skill School में पढ़ाई और परखी नहीं जाती। आप एक महान फुटबॉलर (Great Footballer)  हो सकते हैं, Acting में बेहतरीन हो सकते हैं या फिर एक रचनात्मक कवि (Creative Poet) हो सकते हैं। Exams कभी भी इन Wonderful Skills को नहीं परखेंगी। इसलिए इन Exams के बारे में कुछ इस तरह सोचें - यह कुछ ऐसा है जिसे मुझे पार करना है, लेकिन यह दुनिया की सबसे महत्वपूर्ण चीज भी नहीं है। समस्या यह है कि कई बार हम Teachers ही इन्हें बेहद अहम बना देते हैं। असल में जिंदगी में इससे कहीं ज्यादा कुछ और महत्वपूर्ण है। जैसे कि आप क्या सोचते हैं। यह मत सोचिए कि अपने माता-पिता और हमें गर्व महसूस करवाने के लिए आपको किसी Special Level पर पहुंचना है। इसलिए इस सप्ताहांत तनाव लेने से पहले यह सोचिए कि आने वाला हफ्ता आपके लिए क्या लाने वाला है और फिर Relax होकर चल पड़िए, अपने अगले सफर की ओर।

Three Formula to Success...

अच्छी नींद लीजिए, आराम कीजिए और भरोसा रखिए  Success आपकी कदम चूमेगी  |



Read More
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...