Showing posts with label Exam Hint. Show all posts
Showing posts with label Exam Hint. Show all posts

Saturday, 7 April 2018

// // 1 comment

How to Success in Exam: Exam Tips and Hint

मत लीजिए Exams का Stress बेहतर होगा Score और Result


देश भर में Exams का दौर है। कड़ी तैयारी के बीच अलग-अलग Exams में Students Stress का सामना भी कर रहे हैं। Fortis Healthcare के Survey के मुताबिक 70 Percent Students Exams में और उससे पहले के कुछ सप्ताहों में पूरी नींद नहीं लेते। इनमें से 18 Percent  मात्र तीन से पांच घंटों की नींद लेते हैं। हालांकि ऐसा करना उनकी Performance पर खराब असर डालता है। Experts के मुताबिक Exams में अच्छा Performance करने की चिंता और परिजनों की उम्मीदों पर खरा उतरने के Stress के कारण Students Exam Stress का शिकार होते हैं। Indian Medical Association के पूर्व President Dr. K.K. Agarwal की राय में हालांकि Examinations Future की Success को निर्धारित (Determined) करने में Important Role निभाती हैं। लेकिन इसके लिए जरूरत से ज्यादा Stress लेना काम को बिगाड़ सकता है। याद रखें Exams में Nervous होना सहज है, लेकिन जरूरी है कि इस दौरान इस संबंध में अपने Family और Friends से बात करें। छोटे Break लें। यहां तक कि Examinations खत्म होने के बाद Result तक उसी चिंता में न डूबे रहें। असल में अगर मजबूत तैयारी के साथ-साथ आप Stress Management भी करें तो Result कई गुना बेहतर होगा।
exam-success-hint-tips

Stress से बचने के लिए ऐसे बनाएं अपना Study Schedule

1. प्लान बनाएं (Make Plan)

Examinations Start हो गई हैं तो भी अपने साथ ज्यादा सख्ती न बरतें। इस वक्त के लिए आपके पास एक Short Plan होना चाहिए जो आपको Important Topics को दोहराने (Revision करने) में काम आएगा। यहां एक Fixed Timeline में ही आपको सफलता मिलेगी। जिन Topics को Cover नहीं कर पाए हैं उनके लिए परेशान (Upset) न हों, बल्कि उन्हें Strongबनाएं जिनके लिए आपने Good Preparation की है।

2. पढ़ाई के सोर्स में बदलाव (Changes in Learning Source)

कई बार लगातार एक ही साधन (Resources)  से पढ़ने पर बाेरियत होने लगती है। पढ़ाई के तरीकों में बदलाव के साथ-साथ स्त्रोत में भी बदलाव किया जा सकता है। Books और Note Books के अलावा आप Subject से Related Youtube Channel भी देख सकते हैं। इसके अलावा कई Websites Audio Lecture की सुविधा भी देती हैं। जिससे आपको सुनकर समझने में आसानी होती है।

3. स्टिकी नोट्स की मदद (Get Help From Sticky Notes)

कई Research में साबित हुआ है कि Students को खुद के लिखे Notes ज्यादा याद रहते हैं। इतना ही नहीं Colour Sticky Notes लिखे Formula भी देर तक याद रहते हैं। ऐसे में Sticky Notes पर Important Points और Formula लिखकर Study Table और दीवार (Wall) पर चिपका दें। यह याद रखने का सबसे असरदार (Effective)  तरीका है, जो आपके काम आएगा।

प्रजेंटेशन से मजबूत करें अपनी प्रैक्टिस (Strengthen Your Practice With Presentation)

जब भी किसी Topic की तैयारी करें तो उसकी Practice ऐसे Presentation के रूप में करें जैसे आप Exam Copy में लिखेंगे। आपके Questions के Answer में भी आपका Self-Confidence नजर आना चाहिए। जितना हो सके अपने Answers को Facts और Figures के साथ देने की कोशिश करें। इसके अलावा हर Point के साथ तर्क (Logic) भी दें। इस तरीके से आपको Best Score करने में मदद मिलेगी।

ये हैं तनाव की मुख्य वजहें (The Main Reasons For Stress)


  • कुछ ही दिनों में सालभर का पूरा Syllabus Revise करने की मशक्कत |
  • Exam में Best Performance की अनिश्चितता (Uncertainty) |
  • Family की उम्मीदों का दबाव और Friends से तुलना होने का डर |
  • Future में अच्छे College या Course में प्रवेश का मापदंड Good Marks होना।

तैयारी के तरीके में करें थोड़ा बदलाव (Make a Change In The Way Of Preparation)


  • एक बार में 45 Minute से ज्यादा न पढ़ें। 
  • हर Session के बीच पांच से दस मिनट का Brake जरूर लें। 
  • एक साथ बहुत सारे Topics को दिमाग में जमा न करें। सारे Hard Topics एक साथ न पढ़ें और न ही सभी Easy Topics एक साथ Cover करें। 
  • Keywords को Highlights करें, इससे आपके दिमाग में Picture बन जाएगी और Exam में Keyword याद अाने से पूरा Answer याद आ जाएगा। Flow Charts और Graphics की मदद लें। 

ये लक्षण न करें नजरअंदाज (Do Not Ignore These Symptoms)

शारीरिक लक्षण : Physical Symptoms

Heart Rate का बढ़ा हुआ होना, मांसपेशियों में हल्का Stress, अधिक पसीना आना, Nervousness, सिर भारी होना, मुंह का सूखना, Fatigue, भूख में कमी।

व्यवहार संबंधी लक्षण : (Behavioural Symptoms)

कामों को टालने की प्रवृत्ति (Tendency), लोगों से दूर रहना, छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा आना, खुद का Care न करना, स्वयं को नुकसान पहुंचाना, रोने का मन होना, चिड़चिड़ापन (Irritability)। 

60% Students ने Health Survey में माना कि Examinations में वे सप्ताह (Week) का एक घंटा भी बाहर नहीं बिताते। 

86% ने माना कि Physical Activity के लिए 30 Minute का समय भी उनके पास नहीं होता। 


73% का मानना है कि Family के साथ बिताने के लिए उनके पास एक घंटा भी नहीं होता। 

मैं आशा करता हूँ कि आपको यह Post अच्छा लगा होगा | अगर आपको अच्छा लगे तो इसे अपने Facebook, Whatsaap, Google+, Twitter के माध्यम से अपने दोस्तों और अपने परिवार वालों के साथ जरुर  Shear करें |

Read More

Monday, 26 March 2018

// // Leave a Comment

Golden Words to Success in Exam

किसी भी Exam के Marks आपके Talent और Dreams को छीनकर नहीं ले जा सकते | अगर परीक्षाओं के तनाव से गुजर रहे हैं तो आपका हौसला बढ़ाएंगी देश, दुनिया के Teachers की लिखी ये खूबसूरत Words...

अक्सर किसी भी Student की काबिलियत (Ability) का पैमाना उसके Academic Score को माना जाता है, ऐसे में वे परीक्षाओं और परिवार की अपेक्षाओं के दोहरे दबाव का सामना करते हैं। Expertsकी Opinion में Exams में अच्छे Score की उम्मीद गलत नहीं है, लेकिन Student का तनाव  (Tension) में आना और मानसिक रूप से टूटना घातक है। Lancet Reports के मुताबिक भारत  (India) दुनिया के उन देशों में शामिल है जहां युवाओं की आत्महत्या  (Suicide) दर सबसे ज्यादा है। परीक्षाओं का तनाव भी यहां एक अहम कारक है। जबकि वास्तविकता में इसका मुकाबला इतना मुश्किल भी नहीं है, बस जरूरत है थोड़े प्रोत्साहन  (Encouragement) की। इस सिलसिले में समय-समय पर देश, दुनिया के टीचर्स ने ऐसी प्रेरणादायक चिटि्ठयां  (Inspirational Letters) लिखी हैं, जो Studentsकाे इस मुश्किल दौर को पार करने में मदद कर सकती हैं। अगर आप भी इस तनाव से गुजर रहे हैं तो इन Letters के ये संपादित अंश न केवल आपका हौसला  (Encourage) बढ़ाएंगे बल्कि आपको ऊर्जा से भी भर देंगे।

Doctor या Engineer बनना ही सब कुछ नहीं है...


Kolkata के एक School Principal ने Student व Parents को प्रेरित करने के लिए लिखा ...

Dear Parents,
बच्चों की Exams जल्द ही शुरू होने जा रही हैं। मुझे पता है कि आप वाकई में अपने बच्चे के अच्छे प्रदर्शन को लेकर फिक्रमंद (Regardful) होंगे, लेकिन याद रखें, जो बच्चे परीक्षाएं देने जा रहे हैं उनके बीच एक कलाकार (Artist) है, जिसे Mathematics समझने की जरूरत नहीं है। इसी तरह इनमें से एक आंत्रप्रेन्योर (Entrepreneur) है जिसे History या English Literature की परवाह नहीं है। यहां एक संगीतकार (Musician) भी है जिसके लिए Chemistry के Marks महत्व नहीं रखते। अगर आपका बच्चा Top Marks ले आता है तो अच्छी बात है, लेकिन अगर वह ऐसा नहीं कर पाता तो उसका आत्मविश्वास (Self-Confidence) उससे मत छीनिए। अपने बच्चों को बताइए कि यह सिर्फ एक Exam है। इसके अलावा भी Life में कई बड़ी चीजें हैं। उन्हें बताइए कि वे कितना भी स्कोर करें, लेकिन उनके प्रति आपका प्रेम कभी कम नहीं होगा और न ही इसके लिए आप उन्हें जज (Judge) करेंगे। अगर आप ऐसा करेंगे तो आपका बच्चा दुनिया को जीत लेगा। एक परीक्षा या 90% प्रतिशत आपके बच्चों के Dream और Talent छीनकर नहीं ले जा सकते। कृपया यह मत सोचिए कि केवल Doctor और Engineer ही दुनिया के खुश लोग हैं।


golden-words-success-exam

दिमाग से पहले दिल की पढ़ाई जरूरी है-

दो दशक पूर्व England की Teacher "Mary Ginney"ने अपने  Students के लिए लिखा था ...

Dear Students,
अगले हफ्ते आप Exams में बैठने जा रहे हैं जहां आपकी Mathematics और Grammar को परखा जाएगा। हम जानते हैं कि आपने कितनी मेहनत (Hard Work) की है, लेकिन इससे भी ज्यादा कुछ और महत्वपूर्ण है जिसके बारे में आपको पता होना चाहिए। मैं आपको बताना चाहती हूं कि ये परीक्षाएं उन सभी चीजों का मूल्यांकन नहीं करतीं जो आप में से हर एक को विशेषता (Speciality) बनाती हैं। जिन लोगों ने ये पेपर तैयार किए हैं वे आपको उस तरह नहीं जानते जिस तरह हम Teacher आपको जानते हैं और न ही वे उस तरह आपको पहचानते हैं जिस तरह आपका परिवार आपको जानता है। वे नहीं जानते कि आप में से कुछ लोग दो भाषाएं (Languages) बोलते हैं या आपको Songs या Drownings पसंद है। वे नहीं जानते कि आप दयालु और विचारशील हैं और हर दिन अपना बेस्ट देने की कोशिश करते हैं। जो Grade इस Exam को Pass करने के बाद आपको मिलेंगे वे आपको कुछ न कुछ बताएंगे, लेकिन वे आपको हर चीज नहीं बताएंगे। वे नहीं बताएंगे कि आप Smart हैं। इसलिए Exams की तैयारी के बीच यह याद रखें कि वे सभी अद्भुत (Wonderful) और बेहतरीन चीजें जो आपको "आप" बनाती हैं उन्हें परखने का रास्ता सिर्फ Exams नहीं हैं। 

दिल को शिक्षित किए बगैर दिमाग को शिक्षित करना कतई शिक्षा नहीं है - अरस्तु 

सबसे महत्वपूर्ण हैं आप खुद...

North West England के कुछ School Teachers की प्रेरणादायक  Words...

For Our Amazing Students,
पिछले कुछ हफ्ताें में आपने Exams की तैयारी के लिए काफी कोशिशें (Struggle) की होंगी। हम जानते हैं कि आप उन्हें पार भी कर लेंगेे, लेकिन इनके अलावा भी आपमें अन्य कई खूबियां (Characteristics) हैं। हर Skill School में पढ़ाई और परखी नहीं जाती। आप एक महान फुटबॉलर (Great Footballer)  हो सकते हैं, Acting में बेहतरीन हो सकते हैं या फिर एक रचनात्मक कवि (Creative Poet) हो सकते हैं। Exams कभी भी इन Wonderful Skills को नहीं परखेंगी। इसलिए इन Exams के बारे में कुछ इस तरह सोचें - यह कुछ ऐसा है जिसे मुझे पार करना है, लेकिन यह दुनिया की सबसे महत्वपूर्ण चीज भी नहीं है। समस्या यह है कि कई बार हम Teachers ही इन्हें बेहद अहम बना देते हैं। असल में जिंदगी में इससे कहीं ज्यादा कुछ और महत्वपूर्ण है। जैसे कि आप क्या सोचते हैं। यह मत सोचिए कि अपने माता-पिता और हमें गर्व महसूस करवाने के लिए आपको किसी Special Level पर पहुंचना है। इसलिए इस सप्ताहांत तनाव लेने से पहले यह सोचिए कि आने वाला हफ्ता आपके लिए क्या लाने वाला है और फिर Relax होकर चल पड़िए, अपने अगले सफर की ओर।

Three Formula to Success...

अच्छी नींद लीजिए, आराम कीजिए और भरोसा रखिए  Success आपकी कदम चूमेगी  |



Read More
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...